रूस के अस्पताल में आग लगने से पांच कोरोना वायरस मरीजों की मौत


रूस के आपातकालीन अधिकारियों ने बताया कि सेंट पीटर्सबर्ग के सेंट जॉर्ज अस्पताल में मंगलवार सुबह आग लगने से पांच कोरोना वायरस मरीज मारे गए जो वेंटिलेटर पर थे। नाम उजागर न करने की शर्त से साथ एक आपातकालीन अधिकारियों ने राज्य की Tass नयू एजेंसी से बात की। आग एक गहन देखभाल यूनिट में लगी और आधे घंटे के भीतर काबू पा लिया गया। इसके पीछे कारण वेंटिलेटर में खराबी होना बताया गया।


रूस के दूसरे सबसे बड़े शहर सेंट पीटर्सबर्ग में पुलिस ने आग की आपराधिक जांच शुरू की है। बता दें कि यह रूस में एक कोरोना वायरस अस्पताल में आग लगने की पहली खतरनाक घटना नहीं है। इससे पहले शनिवार को मॉस्को के स्पासोकोकॉट्स्की अस्पताल में आग लगने से एक मरीज की मौत हो गई थी। बता दें कि रूस में 220,000 से अधिक कोरोना वायरस मामलों की पुष्टि हो चुकी है। 2,009 मौतों की भी सूचना है। अंतर्राष्ट्रीय स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि रूस के प्रकोप के वास्तविक टोल से काफी कम है यह आकंड़ा। हालांकि, कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करने से देश की स्वास्थ्य सेवा के बुनियादी ढांचे पर भारी असर पड़ा है।


Popular posts