रूस और ब्राजील में हो रही कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी


रूस, ब्राजील और मैक्सिको जहां कोरोना के बढ़ते मरीजों की संख्या से जूझ रहे हैं वहीं कई देश लॉकडाउन को धीरे-धीरे खत्म कर रहे हैं। इंग्लैंड ने प्रतिबंधों में ढील देते हुए घर के बाहर छह लोगों के मिलने को मंजूरी दे दी है। फिलीपींस में भी प्रतिबंधों में ढील दी गई है। न्यूजीलैंड में संक्रमण का सिर्फ एक मामला रह गया है और वहां पर जिंदगी लगभग सामान्य हो गई है।


अमेरिका में मृतकों की संख्या का आंकड़ा एक लाख को पार कर गया है, लेकिन अर्थव्यवस्था के मुद्दे पर वहां से एक अच्छी खबर सामने आई है। महामारी की शुरुआत से लेकर पहली बार बेरोजगारी भत्ता लेने वालों की संख्या में कमी आई है। यह संख्या 2.5 करोड़ से घटकर 2.1 करोड़ रह गई है। इतना ही नहीं रोजगार भत्ते के लिए दिए जाने वाले आवेदनों में कमी देखी जा रही है। अमेरिका में बेरोजगारी दर अप्रैल में 14.7 फीसद था और बहुत से लोगों का मानना है कि मई में यह 20 फीसद के आसपास होगा। 


रूस में पिछले चौबीस घंटों के दौरान 232 लोगों की मौत हुई है। यह एक दिन में हुई सबसे अधिक मौतें हैं। मरने वालों की कुल संख्या 4,374 हो गई है। रूस में मृतकों की कम संख्या को लेकर संदेह जताया जा रहा है। पश्चिमी विशेषज्ञ कह रहे हैं कि रूस की सरकार सही आंकड़े नहीं बता रही है। जबकि रूस के अधिकारी इससे इन्कार कर रहे हैं और कह रहे हैं कि कड़े प्रतिबंधों के चलते उन लोगों ने मौत पर काबू पाया है। रूस में संक्रमित मरीजों की संख्या 3,87,000 से ज्यादा हो गई है। एक्टिव केस 2,23,992 हैं। संक्रमण के 8,500 नए मामले सामने आए हैं। 


Popular posts