राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) ने की किराया बढ़ोत्तरी


राज्य परिवहन प्राधिकरण (एसटीए) ने किराया बढ़ोत्तरी को लेकर आदेश जारी कर दिया है। आदेश के लागू होने के बाद जहां अब पहाड़ों में रोडवेज की सामान्य बसों में यात्रा करने पर प्रति किमी लगभग 1.80 रुपये की दर से किराया देना होगा, वहीं मैदान में किराये की दर करीब 1.26 रुपये प्रति किमी हो गई है। रोडवेज बसों में किराये की दरें दो-तीन दिन बाद ही लागू हो पाएंगी। कारण कि परिवहन निगम को किराये की मूल दरों में 20 फीसदी सरचार्ज जोड़ने के साथ ही नए किराये की दरों को साफ्टवेयर में अपडेट किया जाना है। वहीं निजी बसों का किराया 1.05 रुपये मैदान में और 1.50 रुपये पहाड़ पर होगा।


एसटीए के सचिव सनत कुमार सिंह ने बताया कि नए आदेशों के मुताबिक चारधाम यात्रा व हेमकुंड साहिब यात्रा के लिए संचालित की जाने वाली परमिट बसों के किराये मेें भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है। गाड़ियों की सीटिंग क्षमता के हिसाब से किराया वसूला जाएगा। 20 सीट की क्षमता वाली बसों के लिए 55 रुपये प्रति किमी, 21 से 30 सीट तक 50 रुपये प्रति किमी व 31 से 45 सीट वाली बसों के लिए 60 रुपये प्रति किमी की दर से किराया लागू कर दिया गया है। इस किराये के अतिरिक्त पूरी गाड़ी के लिए 3500 से लेकर 7000 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से प्रतीक्षा शुल्क वसूला जाएगा।


टैक्सी के किराये में भी बढ़ोत्तरी के आदेश जारी किए गए हैं। छह लाख से कम कीमत वाली गाड़ियों के लिए साधारण व वातानुुकूलित सेवाओें के लिए मैदानी इलाके में क्रमश: 14 व 16 रुपये प्रति किमी, पर्वतीय इलाकाें में 16 व 18 रुपये प्रति किमी की दर से किराया देना होगा। जबकि 20 लाख रुपये से अधिक कीमत की लक्सरी टैक्सी के लिए मैदानों में 35 रुपये व पर्वतीय इलाकों में 40 रुपये प्रति किमी की दर से किराया देना होगा।


Popular posts