पश्चिम बंगाल ने राज्य में तंबाकू पदार्थों की खरीद-बिक्री और मैन्यूफैक्चरिंग पर लगाई रोक


पश्चिम बंगाल सरकार ने सात नवंबर से राज्य में गुटखा और पान मसाला समेत सभी तंबाकू पदार्थों की खरीद-बिक्री पर प्रतिबंध लगा दिया है। तंबाकू उत्पाद जैसे गुटखा, पान-मसाला आदि स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हैं। तंबाकू पदार्थों में निकोटिन की मात्रा अधिक पायी जाती है, जो सेहत के लिए काफी हानिकारक है। इनसे कैंसर जैसी और कैंसर के अलावा और भी कई जानलेवा बिमारी होती है। राज्य खाद्य सुरक्षा की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि पान-मसाला, गुटखा की खरीद-बिक्री पर प्रतिबंध के साथ साथ ही मैन्यूफैक्चरिंग पर भी एक साल के लिए रोक लगा दी है।


दुकानों और गोदामों के साथ ही मैन्यूफैक्चरिंग पर बैन रहेगा। यह निर्देश सात नवंबर से प्रभावी होगा। इस निर्देश में कहा गया है कि गुटखा, पान-मसाला समेत तंबाकू उत्पाद स्वास्थ्य के लिए काफी हानिकारक हैं।तंबाकू पदार्थों में निकोटिन की मात्रा अधिक पायी जाती है, जो सेहत के लिए काफी हानिकारक है।


तम्बाकू से सेहत के साथ साथ परिवार का भी नुकसान है। तम्बाकू से कैंसर होता है और इसमें इतनी निकोटीन की मात्रा पाई जाती है जो आपको बहोत बीमार बनाने के लिए काफी है इसलिए तम्बाकू का उपयोग न करे और न करने दें। 


Popular posts